Join us?

व्यापार

गंडई में सवाना सीड्स और एडमा इंडिया ने लॉन्च किया फुलपेज राइस क्रॉपिंग सॉल्यूशन

बिलासपुर:छत्तीसगढ़ में धान की खेती करने वाले किसानों के लिए करगा एक मुख्य समस्या बना हुआ है। धान की मुख्य फसल के साथ उगने वाले इस जंगली धान की वजह से यहां के किसानों को काफी नुकसान उठना पड़ता है। करगा की समस्या से किसानों को निजात दिलाने व विकसित भारत और टिकाऊ कृषि के दृष्टिकोण के अनुरूप, बुधवार को छत्तीसगढ़ के गंडई में सवाना सीड्स और एडमा इंडिया ने संयुक्त रूप से फुलपेज राइस क्रॉपिंग सॉल्यूशन लांच किया।
फुलपेज राइस क्रॉपिंग सॉल्यूशन न सिर्फ खेतों में धान के साथ उगने वाले जंगली पौधों करगा को नियंत्रित करेगा बल्कि प्रति एकड़ लगभग 6000 से 8000 रुपये की महत्वपूर्ण लागत बचत भी प्रदान करेगा। धान की खेती की यह नई तकनीक परंपरागत डीसीआर प्रणाली की तुलना में ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को 25-30% तक कम करती है। यह छत्तीसगढ़ में 60 लाख एकड़ में धान की खेती करने वाले किसानों के लिए एक वरदान है। सवाना सीड्स अग्रणी वैश्विक फसल सुरक्षा कंपनी, एडमा इंडिया के सहयोग से भारतीय बाजार में लॉन्च किये गए फुलपेज राइस क्रॉपिंग सॉल्यूशन का अधिक से अधिक लाभ किसानों तक पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है। सीधे बीज वाले चावल (डीएसआर) के लिए विशेष रूप से डिज़ाइन किया गया, फुलपेज राइस क्रॉपिंग सॉल्यूशन स्मार्टराइस जेनेटिक्स, स्क्वाड बीज उपचार, फुलपेज अद्वितीय आईएमआई हर्बिसाइड टॉलरेंस विशेषता और एडमा के वेज़िर हर्बिसाइड की विशेषताओं को संयुक्त रूप से एक साथ सम्मिलित करता है। धान की एक व्यापक फसल प्रणाली के रूप में, फुलपेज राज्य में धान की खेती को एक नया लाभकारी स्वरूप प्रदान करने की पेशकश करता है। इसके पहले इस तकनीक को छत्तीसगढ़ बेमतारा में एक भव्य कार्यक्रम में लांच किया गया था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
ऑल-टाइम फेवरेट कम्फर्ट इंडियन फिल्में सबसे खूबसूरत झरना प्लिटविस झरना अपने लीवर की कैसे करें सुरक्षा